full-form-gps

full form of GPS, Global Positioning System 

आज मै बात करूंगा   full form of GPS, Global Positioning System  Location Tracking ki Jankari. GPS के द्वारा कैसे किसी की location tracking किया जाता है.  वैसे यह बहुत ही कमाल की technology है. आज कल यह technology हर smartphone में आ रही है. इस पोस्ट में सारी जानकारी दूंगा की GPS & A-GPS Kya Hota Hai. इसके  के मदद से आप क्या क्या कर सकते है.  location tracking कैसे किया जाता है. G

PS & A-GPS Kya Hota Hai Location Tracking ki Jankari. What is  Global Positioning System GPS kaam kaise karta hai. 

 Full Form of GPS , What is GPS full Form

Full Form of GPS is  Global positioning system होता है.  यह एक ऐसा सिस्टम है जिसके मदद से एक आम user अपने smartphone, tablet आदि की मदद से अपने location को बड़ी ही आसानी से track कर सकता है.
यह शुरू हुआ था 1970 और 1980 के बीच में जब US airforce में कुछ GPS satellite को launch की थी अपने army navigation purpose के लिए. लेकिन बाद में 1983  में जब Russia ने एक civilian aircraft को मार गिराया क्योकि वह उसके airspace में गलती से घुस गया था.
तब US Govt. ने यह फैसला किया की GPS को आम public के लिए उपलब्ध कराया जायेगा, और aircraft में भी इसे navigation के लिए यूज़ किया जायेगा. GPS & A-GPS Kya Hota Hai Location Tracking ki Jankari. What is  Global Positioning System GPS kaam kaise karta hai. How GPS works Navigation
12 साल के कड़ी मेहनत  के बाद 1995 में GPS launch हुआ आम public के लिए उस समय का GPS इतना accurate location को ट्रैक नहीं कर पता था. उस समय इसके द्वारा केवल location का एक अंदाजा लगाया जाता था. 2000 में GPS को public के लिए पूरी तरह से launch कर दिया गया.
सन 2005 से 2015 के बीच US airforce करीब करीब 50 GPS satellite की launch कर चूका है. GPS & A-GPS Kya Hota Hai Location Tracking ki Jankari. What is  Global Positioning System GPS kaam kaise karta hai. How GPS works Navigation
अब ऐसे में आज कल जो GPS हम यूज़ कर रहे है वो बहुत ही ज्यादा advance हो चुकी है, और यह आपको आपके location की एकदम accurate जानकारी दे देती है.

GPS काम कैसे करता है. How GPS works ?

जितनी भी satellite इस धरती का चक्कर लगा रही है भले ही वह GPS satellite हो सभी में एक atomic clock लगी होती है.
atomic clock एक ऐसी clock है है जो हजारो साल बाद भी एकदम accurate बनी रहती है.  इसमे आपको 1 millisecond के टाइम  का भी फर्क नज़र नहीं आता है.  ऐसे में GPS satellite धरती के लिए सिग्नल छोड़ती रहती है. और वह सिग्नल कब भेजा गया था, वह टाइम भी साथ में भेज देती है. GPS & A-GPS Kya Hota Hai Location Tracking ki Jankari. What is  Global Positioning System GPS kaam kaise karta hai. How GPS works Navigation
satellite से छोड़े  गए सिग्नल की स्पीड 50 बाइट पर minute होती है. इनके द्वारा छोड़ा गया सिग्नल बहुत ही बहुत ही स्लो छोटा सिग्नल होता है.  अब मोबाइल फ़ोन में एक GPS receiver लगा होता है. जो यह कोशिश करता है की वह ज्यादा से ज्यादा satellite से लिंक बना सके और ज्यादा से ज्यादा सिग्नल को रिसीव  कर सके.
यदि कोई मोबाइल फ़ोन या GPS unit किसी भी 3 satellite से लिंक बनाने में कामयाब हो जाता है तो वह आपके location की accurate जानकारी दे देता है.
जैसे ही satellite से सिग्नल मोबाइल के GPS या जीपीएस unit को मिलता है तो उसको पता होता है की यह भेजा कब गया था और यह receive कब हुआ है. इन दोनों को compare करके वह अपनी position का पता लगा लेता है. ऐसे में अगर 3 satellite मिल जाती है तो location का एकदम सटीक पता लग जाता है.
यदि 4 satellite से लिंक बन जाये तो वह अपनी समुद्र ताल से उचाई का पता भी लगा सकता है.   यह तो बात हो गई की जीपीएस काम कैसे करता है. 

Navigation के समय GPS काम कैसे करता है.

जब हम एक जगह से दुसरे जगह जा रहे होते है, अर्थात navigation कर रहे है तो GPS हमें रास्ता तो बता रहा है, और फ़ोन के मैप में यह भी दिखा रहा है की जो आपके फ़ोन की location है वह भी बड़ी तेज़ी से बदल रही है. और यह भी दिखता है की यह उसी दिशा में जा रहा है जिस दिशा में आप जा रहे है.
ऐसी स्थिति में मोबाइल की बैटरी का खपत काफी ज्यादा होता है क्योकि  मोबाइल फ़ोन बार बार रिफ्रेश हो रहा होता है,  ताकि उसे नए से नए satellite की डाटा मिल सके.और यदि एक satellite के रेंज से बहार हो गया है तो किसी दुसरे satellite से संपर्क बना सके.
आपको आपके location की जानकारी real time में दे सके, और यह बता सके की आप किस दिशा में जा रहे है. इसी कारण फ़ोन अपने आपको बड़ी ही तेज़ी से खुद को रिफ्रेश करता है. G

Full Form Of A-GPS, What is A-GPS

Full form of A-GPS- Assisted Global positioning system   वो कुछ data consume करके आपको आपके location की जानकारी बहुत जल्द provide करता है. असल में यह आपके मोबाइल फ़ोन के नेटवर्क के हिसाब से उस एरिया के आकाश में मौजूद जितने भी satellite है information पुल करने की कोशिश करता है और  जिस समय आपका फ़ोन GPS के लिए search कर रहा होता है. यह सिर्फ उन्ही satellite को टारगेट करता है. जिनकी मदद से आपका फ़ोन जल्दी आपके   location को प्राप्त कर लेता है. 
GPS के अलावा एक और navigation technology है GLONASS यह एक Russian technology है. यह बहुत ज्यादा लोकप्रिय नहीं है. जबकि GPS आज के समय में काफी लोकप्रिय हो  चूका है. GPS & A-GPS Kya Hota Hai Location Tracking ki Jankari. What is  Global Positioning System GPS kaam kaise karta hai. How GPS works Navigation
GPS आपको लगभग हर smartphone में मिल जायेगा लेकिन GLONASS को कुछ ही स्मार्ट फ़ोन सपोर्ट करते है. यदि आपका फ़ोन GPS satellite को नहीं देख पा रहा है तो आप GLONASS की मदद ले सकते है. G

Conclusion

US army GPS को improve करने की कोशिश कर रही है ताकि आप बैटरी की कम खपत मे ही अपने location का पता कर सके. 
दोस्तों कैसा लगा GPS की जानकारी मुझे उम्मीद है की आपको मेरा यह पोस्ट full form of GPS, Global Positioning System जरुर पसंद होगी. 
इसे अपने मित्रो के साथ facebooktwitter पर जरुर शेयर करे